Home India News अगर दुष्‍यंत चौटाला की पार्टी के साथ गठबंधन जारी रहा तो छोड़...

अगर दुष्‍यंत चौटाला की पार्टी के साथ गठबंधन जारी रहा तो छोड़ देंगे: बीजेपी नेता

22
0
अगर दुष्‍यंत चौटाला की पार्टी के साथ गठबंधन जारी रहा तो छोड़ देंगे: बीजेपी नेता


बीरेंद्र सिंह का परिवार और जेजेपी प्रमुख अजय सिंह चौटाला का परिवार राजनीतिक रूप से कट्टर प्रतिद्वंद्वी हैं।

चंडीगढ़:

पूर्व केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह ने सोमवार को धमकी दी कि अगर भाजपा ने हरियाणा में दुष्यंत चौटाला के नेतृत्व वाली जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के साथ अपना गठबंधन जारी रखा तो वह अपनी पार्टी भाजपा छोड़ देंगे।

जेजेपी हरियाणा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार में जूनियर पार्टनर है। दुष्‍यंत चौटाला उपमुख्‍यमंत्री हैं.

पूर्व मंत्री, जो पहले कांग्रेस में थे, ने जींद में एक सार्वजनिक रैली “मेरी आवाज सुनो” में यह टिप्पणी की, “अगर बीजेपी-जेजेपी गठबंधन जारी रहा, तो मैं बीजेपी छोड़ दूंगा।”

उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें बीजेपी से बहुत सम्मान मिला है और उनके लिए पार्टी की आलोचना करने का कोई कारण नहीं है. उन्होंने कहा, ”लेकिन बीरेंद्र सिंह हमेशा अपने मन की बात कहते हैं और यही मेरा स्वभाव है।”

बीजेपी नेता ने जेजेपी पर बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘जेजेपी के एक बड़े नेता ने लोगों को इतना बड़ा धोखा दिया है, जितना हरियाणा के किसी अन्य राजनीतिक नेता ने नहीं दिया.’

2014 में भाजपा में शामिल हुए बीरेंद्र सिंह हरियाणा के एक प्रमुख जाट चेहरे हैं। वह हरियाणा सरकार में तीन बार मंत्री भी रह चुके हैं।

बीरेंद्र सिंह का परिवार और जेजेपी प्रमुख अजय सिंह चौटाला का परिवार राजनीतिक रूप से कट्टर प्रतिद्वंद्वी हैं।

खबरों के मुताबिक विवाद की जड़ यह है कि उचाना कलां सीट किसे मिलेगी, जो बीरेंद्र सिंह का पारिवारिक गढ़ है।

2014 में बीरेंद्र सिंह की पत्नी प्रेम लता ने दुष्यंत चौटाला को हराया था. 2019 में जेजेपी नेता ने अपनी हार का बदला ले लिया. राजनीतिक पर्यवेक्षकों का कहना है कि यह सीट एक बार फिर से दुष्यंत चौटाला को मिलने की संभावना है।

दुष्‍यंत चौटाला ने भी यह जाहिर कर दिया है कि वह उसी सीट से चुनाव लड़ना चाहते हैं. बीरेंद्र सिंह का परिवार भी यही सीट चाहता है.

नेता के बयान पर बीजेपी की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here